CM योगी ने लगाई रोक हवाई रास्तो पर -लखमीपुर हिंसा को लेकर

0
73
political news

उत्तर -प्रदेश के मुख्य्मंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखमीपुर हिंसा को लेकर हवाई रास्तो पर लगाई रोक -जानिए UP को लेकर योगी नई राजनीति 

political news

up के मुख्यमंत्री योगी ने लखमीपुर हिंसा को लेकर आने वाले रास्तो पर लगाई रोक भूपेश बेघल और चुन्नी को लखनऊ में उतरने की इजाजत नहीं दी। भूपेश बेघल ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर लिखा है की उनको up सरकार वहा पर नहीं आने देने का फरमान जारी कर चुकी है। उन्होंने ट्वीट में लिखा है की यदि सरकार ने वहा पर धारा 144 लगा रखी तो फिर मुझे वहा पर उतरने की अनुमति क्यों नहीं दे रही है।

भूपेश बेघल और कॉग्रेस के नेता जो किसान आंदोलन में जा रहे है उन्हें UP सरकार के द्वारा उतरने पर रोक लगा दी है। लखमीपुर हिंसा में मारे गए किसानो का बदला लेने के लिए विपक्षी दल पूरी तरह से up  सरकार पर हावी हो गया है।                                                                                                                                                       उनका कहना है की बिना कोई मतलव के किसानो को अपनी जान क्यू गवा नी पड़ी  हमें सरकार से इस मामले में जबाब चाहिए। क्या कुसूर था इन गरीब किसानो का जिन्होंने बिना किसी मतलब के जान दी। क्या भाजपा को ये पता नहीं है की किसानो ने ही इनको अपनी सुरक्षा के लिए चुना है।                                                                                                                                                                                                   वोट लेने के समय में तो भाजपा सरकार किसानो के घर -घर जाकर उनके सामने हाथ फैलती रही और जब अपना काम पूरा हुआ तब उन्होंने किसानो के ऊपर अत्याचार करना शुरू कर दिया है। सूत्रों से पता चला है की इस आंदोलन में प्रियंका गाँधी भी जा रही थी तो उसे बीच रास्ते  में ही गिरफ्तार कर लिए।

बताया गया की है की प्रियका गाँधी भी किसानो पर हुए अत्याचार को लेकर वहा पर मुद्दा उठाने के वहा पर जा रही थी जिसको बीच में से ही UP गिरफ्तार कर लिया गया।

सीएम योगी ने किसानो से साथ हुए अत्याचार को लेकर दुःख व्यक्त किया है। उन्होंने कहा की किसानो के साथ हुए अत्याचार पर पूरी तरह से कदम उठाये जायेगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here