IAS रानी नागर के समर्थन में आया पूरा गुर्जर समाज

0
473

समाज की बेटी रानी नागर ने घोर तपस्या से प्रशासनिक सेवा में चयन पाया होगा ओर आज वो परेशान होकर इस्तीफा दे रही है ! ये गंभीर सोचनीय बात है उच्च स्तरीय लोग जो उन्हें लगातार परेशान कर रहे है जो गलतफहमी में है ! उनके साथ हम सभी है ओर उनके साथ जो भी घटित हुआ है हम सब मिलकर उनकी आवाज़ उठाएंगे ओर इंसाफ़ लेकर ही हम रहेंगे।

मैं रानी नागर पुत्री रतन सिंह नागर निवासी गाजियाबाद, गांव बादलपुर तहसील दादरी जिला गौतमबुद्धनगर. आप सभी को सूचित करना चाहती हूं,मेने मेरे और परिवार के हित में लोकडाउन के बाद अपने पद IAS से इस्तीफा  देने की सोची है ,अभी चंडीगढ़ में कर्फ्यू लगा हुआ है और आगे भी रास्ते बंद है लोकडाउन खुलने के बाद अपने कार्यालय में जाकर सरकार से नियमानुसार अनुमति लेकर बहन रीमा नागर के साथ वापस अपने पैतृक शहर गाजियाबाद आऊंगी

भारतीय प्रशासनिक सेवा में 2014 बेच की हरियाणा कैडर की IAS अधिकारी रानी नागर जिन्होंने 22 मार्च को अपने फेसबुक एकाउंट पर एक वीडियो अपलोड किया जिसमें अपनी ओर अपनी बहन रीमा नागर की जान को खतरा बताया और कहा अगर हम को कुछ हो जाये हम लापता हो जाये तो बयान सीजेएम चंडीगढ़ की अदालत में केस संख्या 3573/2019 में दर्ज कराए

इस बात को सुनकर ओर देख कर गुर्जर समाज के हजारों युवक व सामाजिक संगठन रानी नागर के साथ आये किसान एकता संघ के पदाधिकारियों ने रानी नागर के समर्थन में बड़ा आंदोलन करने की चेतावनी दी संगठन के मीडिया प्रभारी आलोक नागर ने बताया पूरा समाज रानी नागर के साथ खड़ा है ओर इसके अलावा अखिल भारतीय गुर्जर परिषद के प्रदेश अध्यक्ष रविंद्र भाटी ने कहा समाज की बेटी के साथ अन्याय हुआ है जिससे आहत होकर वह अपनी नौकरी से इस्तीफा दे रही है हम समाज की महिला अधिकारी का हर तरह से सहयोग करेंगे इसके लिए सड़क से लेकर अदालत तह की लड़ाई लड़ी जाएगी

रानी नागर के समर्थन में आज पूरा समाज एकजुट है समाज के हजारो युवक सोशल मीडिया पर पोस्ट डाल कर समाज की लड़की के साथ होने ही बात कर रहे है, जैसे ही लोकडाउन खुलेगा रानी नागर के समर्थन में लड़ाई लड़ी जायेगी |

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here